ऋण पुनर्गठन पर के.वी. कामथ समिति

के.वी. कामथ समिति | ऋण पुनर्गठन | ऋण पुनर्गठन समिति | आरबीआई |

Posted on Aug 10, 2020 02:30 IST in Current Affairs.

User Image
4234 Followers
413 Views

ऋण पुनर्गठन पर के.वी. कामथ समिति

केन्द्र सरकार ने 7 अगस्त 2020 को बैंकों के ऋणों के पुनर्गठन (Debt Recasting) पर वरिष्ठ बैंकर के.वी. कामथ (K.V. Kamath) की अध्यक्षता में 4-सदस्यीय समिति का गठन किया जो ऋणों के पुनर्गठन पर अपनाए जाने वाले मानकों पर भारतीय रिज़र्व बैंक को अपनी सिफारिशें प्रदान करेगी। उल्लेखनीय है कि आरबीआई ने बैंकों की तनावग्रस्त परिसम्पत्तियों (stressed assets) के लिए 6 अगस्त 2020 को एक विशेष विण्डो स्थापित करने के एक दिन बाद इस समिति के गठन की घोषणा की।

यह समिति बैंकों के ऋणों के पुनर्गठन की ऐसी सभी योजनाओं का सत्यापन भी करेगी जिनका प्रभावित परिसम्पत्तियाँ 1500 करोड़ रुपए अथवा इससे अधिक होगी। हालांकि ऐसा करते समय यह समिति इन योजनाओं के वाणिज्यिक पहलुओं से सरोकार नहीं रखेगी।

समिति में शामिल अन्य चार सदस्य

दिवाकर गुप्ता

टी.एन. मनोहरन

आश्विन पारिख

कौन हैं के. वी. कामथ?

के. वी. कामथ देश के एक दिग्गज बैंकर रहे हैं तथा आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) के प्रबन्ध निदेशक (MD) का पद 1996 में ग्रहण करने के बाद उन्होंने बैंक की खुदरा सेवाओं (retail services) को विश्व-स्तरीय बनाने में प्रमुख भूमिका निभाई। उन्हें वर्ष 2014 में ब्रिक्स (BRICS) संगठन द्वारा स्थापित न्यू डेवलपमेण्ट बैंक (New Development Bank) का प्रथम अध्यक्ष (President) नियुक्त किया गया था। इसके अलावा उन्होंने प्रमुख आईटी कम्पनी इन्फोसिस (Infosys) के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष (non-Executive Chairman) का कार्यभार 2011 में संभाला था।

Read more