15-18 जनवरी 2019 करेण्ट अफेयर्स

भारत का सबसे युवा ग्रैण्डमास्टर | सर्वोच्च न्यायालय नए न्यायाधीश | ICC CEO | EXIM बैंक | खुदरा ब्रोकिंग व्यवसाय |

Posted on Jan 18, 2019 07:58 IST in Current Affairs.

User Image
3373 Followers
718 Views

1) 15 जनवरी 2019 को कौन शतरंज (Chess) में भारत का अब तक का सबसे युवा ग्रैण्डमास्टर बनने में सफल हुआ? - डी. गुकेश (D. Gukesh)

विस्तार: नवोदित शतरंज खिलाड़ी डी. गुकेश (D. Gukesh) 15 जनवरी 2019 को उस समय चर्चा में आ गए जब वे भारत के अब तक के सबसे कम आयु के शतरंज ग्रैण्डमास्टर बन गए। उन्हें यह उपलब्धि तब हासिल हुई जब दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय ओपन (Delhi International Open) के अपने नौवें दौर के मुकाबले में उन्होंने दिनेश शर्मा को पराजित कर दिया।

- इस प्रकार उन्होंने जून 2018 में सबसे कम आयु के ग्रैण्डमास्टर बनने वाले आर. प्रग्नानंद (R. Praggnanandhaa) का कीर्तिमान तोड़ दिया। उल्लेखनीय है कि प्रग्नानंद जहाँ 12 वर्ष 10 माह और 13 दिन में ग्रैण्डमास्टर खिताब तक पहुँचे थे वहीं गुकेश 12 वर्ष 7 माह और 17 दिन में यह उपलब्धि हासिल करने में सफल रहे हैं। गुकेश अब ग्रैण्डमास्टर बनने वाले दुनिया के दूसरे सबसे कम आयु के युवा हैं।

- उल्लेखनीय है कि सबसे कम आयु में शतरंज ग्रैण्डमास्टर बनने का कीर्तिमान रूस (Russia) के सर्गे कर्जाकिन (Sergey Karjakin) के नाम है जो वर्ष 2002 में मात्र 12 वर्ष सात माह की आयु में यह उपलब्धि हासिल करने में सफल रहे थे।

..............................................................

2) 18 जनवरी 2019 को कौन से दो न्यायाधीश सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के नए न्यायाधीशों के तौर पर औपचारिक रूप से शामिल हो गए? - न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना

विस्तार: 16 जनवरी 2019 को केन्द्र सरकार ने दो न्यायाधीशों न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी (Justice Dinesh Maheshwari) और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना (Justice Sanjiv Khanna) को सर्वोच्च न्यायालय के नए न्यायाधीश बनाए जाने के फैसले पर अपनी मुहर लगा दिया। सर्वोच्च न्यायालय की कोलिज़ियम (Supreme Court Collegium) ने इन दोनों न्यायाधीशों के नाम चयनित कर सरकार के पास नियुक्ति के लिए भेजे थे।

- न्यायमूर्ति माहेश्वरी और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना को 18 जनवरी 2019 को औपचारिक तौर पर शपथ दिला कर सर्वोच्च न्यायालय का न्यायाधीश नियुक्त कर दिया गया। इसके साथ ही सर्वोच्च न्यायालय में कुल न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर 28 हो गई। उल्लेखनीय है कि सर्वोच्च न्यायालय में न्यायाधीशों के लिए कुल आवंटित पद 31 हैं।

- न्यायमूर्ति माहेश्वरी और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना का कार्यकाल क्रमश: 14 मई 2023 और 13 मई 2025 तक होगा। वहीं न्यायमूर्ति संजीव खन्ना नवम्बर 2024 में डी.वाई.चन्द्रचूड़ के बाद देश के अगले मुख्य न्यायाधीश (CJI) बनने की राह पर हैं।

..............................................................

3) 16 जनवरी 2019 को किसे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) का नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त किया गया? - मनु साहनी (Manu Sawhney)

विस्तार: ईएसपीएन स्टार स्पोर्ट्स (ESPN Star Sports) के पूर्व प्रबन्ध निदेशक (MD) मनु साहनी (Manu Sawhney) को 16 जनवरी 2019 को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (International Cricket Council – ICC) का नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी (Chief Executive Officer - CEO) नियुक्त किया गया। वे दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के डेविड रिचर्डसन (David Richardson) का स्थान लेंगे जिनका कार्यकाल इस साल आईसीसी विश्व कप (ICC World Cup) के बाद समाप्त हो रहा है।

- इस पद के लिए भारत में जन्में मनु साहनी सबकी पसंद बनकर उभरे। उनके चयन के लिए आईसीसी अध्यक्ष शशांक मनोहर (Shashank Manohar) के नेतृत्व में एक वैश्विक चयन प्रक्रिया को प्रयोग किया गया।

..............................................................

4) केन्द्रीय कैबिनेट ने 16 जनवरी 2019 को भारतीय निर्यात-आयात बैंक (EXIM Bank) में कितनी पूँजी निषेचन (Capital Infusion) करने के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी प्रदान की? – 6,000 करोड़ रुपए

विस्तार: केन्द्रीय कैबिनेट ने भारतीय निर्यात-आयात बैंक को अपने व्यवसाय को विस्तारित करने के उद्देश्य से 6,000 करोड़ रुपए पूँजी निषेचन (Capital Infusion) करने के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी 16 जनवरी 2019 को प्रदान की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई इस कैबिनेट बैठक में बैंक की प्राधिकृत पूँजी (Authorised Capital) को भी वर्तमान 10,000 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 20,000 करोड़ रुपए करने का निर्णय लिया गया।

- इस अतिरिक्त पूँजी से बैंक अपने तय पूँजी पर्याप्तता नियमों (capital adequacy rules) को पूरा करने के अलावा भारतीय निर्यातकों को अपना व्यवसाय बढ़ाने के प्रयासों में भी मदद मिलेगी। उल्लेखनीय है कि भारतीय निर्यात-आयात बैंक निर्यात क्रेडिट प्रदान करने के मामले में भारत की मुख्य एजेंसी है तथा इस पूँजी निषेचन से उसको अपना व्यवसाय विस्तारित करने में खासी मदद मिलने की संभावना है।

..............................................................

5) वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के प्रदर्शन के आधार पर किस कम्पनी ने खुदरा ब्रोकिंग व्यवसाय (Retail Broking Business) में देश की सबसे बड़ी कम्पनी का खिताब आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ लिमिटेड (ICICI Securities Ltd.) से छीन लिया है? – ज़ेरोधा (Zerodha)

विस्तार: 15 जनवरी 2019 को प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रमुख वित्तीय सेवा कम्पनी ज़ेरोधा (Zerodha) ने वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के प्रदर्शन के आधार पर अभी तक अग्रणी रही आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ लिमिटेड (ICICI Securities Ltd.) को पीछे ढकेल कर भारत की सबसे बड़ी खुदरा ब्रोकिंग कम्पनी का ताज हासिल कर लिया है। इस तिमाही के दौरान आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ लिमिटेड के ग्राहकों की संख्या में 10% की साधारण वृद्धि हुई तथा उसकी कुल ग्राहक संख्या 8,45,000 पहुँच गई। वहीं इस समयावधि के दौरान ज़ेरोधा की ग्राहक संख्या में खासी वृद्धि हुई तथा यह संख्या 4,47,000 के आंकड़े को पार कर गई।

- इस प्रकार वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही की ग्राहक संख्या के आधार पर ज़ेरोधा (Zerodha) ने आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ पर बढ़त कायम कर ली।

- हालांकि आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ के लिए यह संतोष की बात रही कि उसका औसत दैनिक ट्रेडिंग वॉल्यूम (average daily trading volume) लगातार मजबूत बना हुआ है तथा ब्रोकिंग के परिचालन से होने वाली उसकी आय ठीक-ठाक स्तर पर कायम है।

..............................................................

| Current Affairs | Current Affairs 2019 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking  Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | January 2019 | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी | समसामायिकी | दिसम्बर 2018 | 2018 समसामायिकी | 2019 करेण्ट अफेयर्स | भारत का सबसे युवा ग्रैण्डमास्टर | सर्वोच्च न्यायालय नए न्यायाधीश | ICC CEO | EXIM बैंक | खुदरा ब्रोकिंग व्यवसाय | 

Read more