1-2 जनवरी 2019 करेण्ट अफेयर्स

25वाँ उच्च न्यायालय | ब्राज़ील का नया राष्ट्रपति | FedEx के नए अध्यक्ष | मृणाल सेन

Posted on Jan 02, 2019 01:21 IST in Current Affairs.

User Image
3296 Followers
514 Views

1) 1 जनवरी 2019 को अस्तित्व में आकर कौन सा उच्च न्यायालय भारतीय गणतंत्र का 25वाँ उच्च न्यायालय बन गया? - आन्ध्र प्रदेश उच्च न्यायालय (Andhra Pradesh High Court)

विस्तार: आन्ध्र प्रदेश का नया उच्च न्यायालय (Andhra Pradesh High Court) 1 जनवरी 2019 को राजधानी अमरावती (Amaravati) में अस्तित्व में आ गया। इस प्रकार आन्ध्र प्रदेश उच्च न्यायालय भारतीय गणतंत्र का 25वाँ उच्च न्यायालय बन गया। अभी तक हैदराबाद उच्च न्यायालय (Hyderabad High Court) तेलंगाना व आन्ध्र प्रदेश के संयुक्त न्यायालय के रूप में हैदराबाद (Hyderabad) में काम कर रहा था। तेलंगाना व आन्ध्र प्रदेश के राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन ने न्यायमूर्ति बी.एन. राधाकृष्णन (B.N. Radhakrishnan) को तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की शपथ दिलाई।

- वहीं इसी दिन एक पृथक न्यायालय के तौर पर हैदराबाद स्थित तेलंगाना उच्च न्यायालय (Telangana High Court) भी अस्तित्व में आ गया। राज्यपाल ने सी. प्रवीण कुमार (C. Praveen Kumar) को आन्ध्र प्रदेश के नवगठित उच्च न्यायालय का कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया। इसी के साथ हैदराबाद उच्च न्यायालय का अस्तित्व भी सदा के लिए समाप्त हो गया।

- उल्लेखनीय है कि वर्ष 2014 में तेलंगाना के अस्तित्व में आने के बाद से दोनों राज्यों के न्यायालयों को पृथक करने की मांग वकील तथा न्याय क्षेत्र से जुड़े लोग करते आ रहे थे। लेकिन दोनों उच्च न्यायालयों के परिचालन की पुष्टि तब हो गई थी जब आन्ध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चन्द्रबाबू नायडू ने यह लिखित तौर पर दे दिया था कि अमरावती में उच्च न्यायालय शुरू करने की सभी तैयारियों को 31 दिसम्बर 2018 तक पूरा कर लिया जायेगा।

- यह भी उल्लेखनीय है कि सर्वोच्च न्यायालय ने केन्द्र सरकार को हैदराबाद स्थित संयुक्त उच्च न्यायालय को तेलंगाना और आन्ध्र प्रदेश के उच्च न्यायालयों में पृथक करने का निर्देश दिया था।

................................................................

2) 1 जनवरी 2019 को कौन मिशेल टेमर के स्थान पर ब्राज़ील का नया राष्ट्रपति (New Brazilian President) बन गया? - जेयर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro)

विस्तार: उग्र दक्षिणपंथी नेता जेयर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro), जिन्होंने देश में अपराध और भ्रष्टाचार को समाप्त करने का वादा किया है, को 1 जनवरी 2019 को राजधानी ब्राज़िलिया में स्थित संसद भवन के सामने आयोजित एक शपथ ग्रहण समारोह में ब्राज़ील के नए राष्ट्रपति के तौर पर शपथ दिलाई गई।

- उन्होंने बेहद अलोकप्रिय मध्य-दक्षिणपंथी राष्ट्रपति मिशेल टेमर (Michel Temer) का स्थान लिया है, जो 2016 में भ्रष्टाचार के आरोप में पद से हटायी गईं वामपंथी राष्ट्रपति डिल्मा रॉसेफ (Dilma Rousseff) के बाद से वस्तुत: कार्यवाहक राष्ट्रपति की भूमिका निभा रहे थे।

- 63-वर्षीय बोल्सोनारो ब्राज़ीली सेना में भूमिका निभा चुके एक भूतपूर्व पैराट्रूपर हैं तथा पिछले 27 वर्षों से ब्राज़ीली कांग्रेस के प्रतिनिधि रहे हैं। वे देश के 38वें राष्ट्रपति हैं तथा उनका कार्यकाल 4 वर्ष का होगा।

................................................................

3) भारतीय मूल के किस अमेरिकी ने 1 जनवरी 2019 को सुप्रसिद्ध बहुराष्ट्रीय कूरियर कम्पनी फेडेक्स एक्सप्रेस (FedEx Express) के नए अध्यक्ष (President) तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) का पद ग्रहण किया? - राजेश सुब्रह्मण्यम (Rajesh Subramaniam)

विस्तार: भारतीय मूल के राजेश सुब्रह्मण्यम (Rajesh Subramaniam) 1 जनवरी 2019 को दिग्गज बहुराष्ट्रीय कूरियर कम्पनी फेडेक्स एक्सप्रेस (FedEx Express) के नए अध्यक्ष (President) तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी (Chief Executive Officer – CEO) बन गए। वे अभी तक कम्पनी के कार्यकारी उपाध्यक्ष, मुख्य विपणन व संचार अधिकारी थे।

- सुब्रह्मण्यम मूलत: तिरुवनंतपुरम के रहने वाले हैं तथा उन्होंने आईआईटी बंबई से ग्रेजुएशन किया है। वे 27 वर्षों से फेडेक्स एक्सप्रेस के साथ जुड़े हुए हैं। उन्होंने डेविड एल. कन्निन्घम (David L. Cunningham) का स्थान लिया।

- उल्लेखनीय है कि 1971 में संस्थापित इस कम्पनी का वर्ष 2018 में कुल राजस्व 65 अरब डॉलर से अधिक था। कम्पनी का मुख्यालय अमेरिका के मेम्फिस (Memphis) में है।

................................................................

4) सुविख्यात फिल्म-निर्माता मृणाल सेन (Mrinal Sen) का 30 दिसम्बर 2018 को कोलकाता में निधन हो गया। उन्हें किस वर्ष फिल्म क्षेत्र का सर्वोच्च सम्मान दादासाहेब फाल्के पुरस्कार (Dada Saheb Phalke Award) प्रदान किया गया था? - 2005 में

विस्तार: भारतीय फिल्म जगत की दिग्गज हस्ती तथा समानांतर सिनेमा के स्तंभ मृणल सेन (Mrinal Sen) का 30 दिसम्बर 2018 को प्रात: दक्षिण कोलकाता स्थित अपने आवास में निधन हो गया। वे 95 वर्ष के थे।

- मृणाल सेन, सत्यजीत रे (Satyajit Ray) और ऋत्विक घटक (Ritwick Ghatak), इन तीन महान फिल्मकारों की तिकड़ी पश्चिम बंगाल की सुप्रसिद्ध फिल्मी तिकड़ी थी जिसकी पूरे भारत के सिनेमा आंदोलन में खासी भूमिका थी। मृणाल सेन को वर्ष 2005 में फाल्के पुरस्कार मिला था। इसके अलावा उन्हें तमाम राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार तथा अन्य पुरस्कार मिले थे।

- उनकी कुछ प्रमुख फिल्में हैं - "आकाश कुसुम" (1965), "भुवन शोम" (1969), "कलकत्ता 71” और “इंटरव्यू" (1971), "कंधार" (1974), "कोरस" (1975), "मृगया" (1977), "अकेलेर संधाने" (1981) और "एक दिन अचानक" (1989)। उनकी निर्देशित अंतिम फिल्म थी 2002 में आई "आमर भुवन"।

................................................................

| Current Affairs | Current Affairs 2019 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking  Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | January 2019 | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी | समसामायिकी | दिसम्बर 2018 | 2018 समसामायिकी | 2018 करेण्ट अफेयर्स | 25वाँ उच्च न्यायालय | ब्राज़ील का नया राष्ट्रपति | FedEx के नए अध्यक्ष | मृणाल सेन | 

Read more