1-4 दिसम्बर 2018 करेण्ट अफेयर्स

G20 शिखर सम्मेलन | मुख्य चुनाव आयुक्त | GDP विकास दर | एकल आपातकालीन नम्बर | पेरिस प्रदर्शन | हर्ट अटैक रिवाइण्ड |

Posted on Dec 04, 2018 02:35 IST in Current Affairs.

User Image
3133 Followers
440 Views

1) जी20 (G20) राष्ट्रों के राष्ट्राध्यक्षों/प्रमुखों का 13वाँ शिखर सम्मेलन 1 दिसम्बर 2018 को समाप्त हुआ। यह सम्मेलन किस स्थान पर आयोजित की गई? - ब्यूनस आयर्स (अर्जेन्टीना)

विस्तार: अर्जेन्टीना (Argentina) की राजधानी ब्यूनस आयर्स (Buenos Aires) में 30 नवम्बर 2018 और 1 दिसम्बर 2018 को G20 राष्ट्रों के राष्ट्राध्यक्षों/प्रमुखों के 13वाँ शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया। विश्व की 19 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं तथा यूरोपीय संघ (European Union – EU) के संगठन G20 (Group of Twenty) की इस बैठक में 19 देशों के राष्ट्राध्यक्ष तथा यूरोपीय संघ (EU) के प्रमुख शामिल हुए। इस बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया।

- इस बैठक में 1994 के उत्तर अमेरिका मुक्त व्यापार समझौते (North American Free Trade Agreement - NAFTA) का स्थान लेने वाले नए समझौते अमेरिका-कनाडा-मैक्सिको समझौता (United States-Mexico-Canada Agreement - USMCA) 30 नवम्बर 2018 को हस्ताक्षरित किया गया। वहीं अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते व्यापार गतिरोध को दूर करने के लिए दोनों देशों ने एक महत्वपूर्ण बैठक इस सम्मेलन के दौरान आयोजित की।

......................................................................

2) किसने भारत के नए मुख्य चुनाव आयुक्त (Chief Election Commissioner - CEC) का पद 2 दिसम्बर 2018 को संभाला? - सुनील अरोड़ा (Sunil Arora)

विस्तार: 1980-बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के राजस्थान-काडर के सेवानिवृत्त अधिकारी सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने 2 दिसम्बर 2018 को भारत के नए मुख्य चुनाव आयुक्त (CEC) का पद ग्रहण किया। उन्होंने 1 दिसम्बर 2018 को इस पद से सेवानिवृत्त होने वाले ओ.पी. रावत (O.P. Rawat) का स्थान लिया। वे चुनाव आयोग के सबसे वरिष्ठ चुनाव आयुक्त थे।

- सुनील अरोड़ा ने सरकार में कई महत्वपूर्ण पदों को संभाला है। सचिव स्तर पर उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय का काम देखा है। उन्होंने कई अन्य मंत्रालयों में भी काम किया है। नागर विमानन मंत्रालय में संयुक्त सचिव का पद संभालने के बाद उन्होंने इण्डियन एयरलाइन्स (Indian Airlines) के अध्यक्ष तथा प्रबन्ध निदेशक (CMD) का पद 5 वर्ष के लिए संभाला था।

......................................................................

3) केन्द्र सरकार द्वारा 30 नवम्बर 2018 को जारी आंकड़ों के अनुसार सितम्बर 2018 में समाप्त हुई तिमाही के दौरान भारत की सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर (India’s GDP Growth Rate) क्या रही? – 7.1%

विस्तार: जुलाई-सितम्बर 2018 तिमाही  (July-September 2018 quarter) के दौरान भारत की सकल घरेलू उत्पाद वृद्धि दर (India’s GDP Growth Rate) इससे पहले की तिमाही की 8.2% की काफी स्वस्थ दर से घट कर 7.1% रह गई है। हालांकि संतोषजनक बात यह रही कि यह वृद्धि दर पिछले वर्ष की समान तिमाही की 6.3% की दर के मुकाबले अच्छी रही तथा भारत अभी भी विश्व की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेजी से वृद्धि दर्ज करने वाली अर्थव्यवस्था के रूप में अपना स्थान काबिज करने में सफल रहा।

- इस तिमाही के दौरान ईंधन के मूल्यों में वृद्धि, रुपए की कमजोरी, अपेक्षाकृत कमजोर मानसून तथा कुछ क्षेत्रों में बाढ़ आदि के चलते फसलों को हुए नुकसान अर्थव्यवस्था वृद्धि दर में प्रमुख बाधक के रूप में सामने आए।

......................................................................

4) नवम्बर 2018 के दौरान कौन सा राज्य एकल आपातकालीन नम्बर (single emergency number) सेवा शुरू करने वाला भारत का पहला राज्य बन गया? - हिमाचल प्रदेश

विस्तार: हिमाचल प्रदेश सरकार ने 28 नवम्बर 2018 को राज्य में समस्त आपातकाल के लिए एकल नम्बर (single emergency number ) "112" की सेवा शुरू की। यह एकल नम्बर पुलिस, अग्निशमन, स्वास्थ्य तथा अन्य हेल्पलाइन सेवाओं को ग्राहकों से जोड़ने में सक्षम है तथा इसे एक से एकीकृत किया गया है।

- इस परियोजना के तहत राज्य का आपातकालीन रिस्पॉंन्स केन्द्र (Emergency Response Centre - ERC) शिमला (Shimla) में स्थापित किया गया है। इसके अलावा राज्य के प्रत्येक 12 जिलों में कमाण्ड केन्द्र स्थापित किए गए हैं। रिस्पॉन्स केन्द्र को पुलिस (Police) के 100, अग्निशमन सेवा (Fire Service) के 101 नम्बर, स्वास्थ्य (Health)सेवा के 108 नम्बर और महिला हेल्पलाइन (Women helpline) नम्बर 1090 से एकीकृत किया गया है। इस प्रकार इन तमाम आपातकालीन सेवाओं तक 112 एकल नम्बर से ही पहुँचा जा सकेगा। इसे केन्द्र सरकार की महात्वाकांक्षी “112 इण्डिया” (“112 India)  आपातकालीन स्मार्टफोन एप आधारित सेवा से भी जोड़ा गया है।

......................................................................

5) फ्रांस (France) की राजधानी पेरिस (Paris) में 1 जनवरी 2018 को तीव्र प्रदर्शन के आक्रामक होने के बाद हुए दंगों में कम से कम 3 लोगों की मौत हो गई तथा सैकड़ों घायल हो गए। यह प्रदर्शन किस मुद्दे को लेकर आयोजित किए गए थे? - ईंधन की कीमतों में वृद्धि के विरोध में

विस्तार: उल्लेखनीय है कि नवम्बर 2018 से पेरिस में "येलो वेस्ट्स" (“Yellow Vests”) आंदोलन चल रहा है जिसमें ईंधन पर फ्रांसीसी सरकार द्वारा अधिक कर लगाए जाने का विरोध किया जा रहा है। 1 जनवरी 2019 से प्रभाव में आने वाले इस अतिरिक्त कर से डीज़ल के मूल्य में 6.5% तथा पेट्रोल की कीमत में 2.9% वृद्धि हो जायेगी।

- यह प्रदर्शन 1 दिसम्बर 2018 को उस समय उग्र हो गया जब फ्रांस के गरीब ग्रामीण क्षेत्रों से आए लोगों की भीड़ राजधानी पेरिस में सीन नदी (Seine River) के किनारे डेरा डालते हुए एक विशाल मार्च निकाली। बाद में यह मार्च उग्र हो गई तथा दंगे का महौल व्याप्त हो गया। यह दंगे पेरिस में हाल-फिलहाल के सबसे आक्रामक थे तथा इसमें शामिल लगभग 400 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। राष्ट्रपति इमेनुअल मैक्रॉन (President Emmanuel Macron) ने 2 दिसम्बर 2018 को पेरिस के प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया।

......................................................................

6) भारत की खाद्य नियामक संस्था FSSAI द्वारा 1 दिसम्बर 2018 से शुरू किए गए "हर्ट अटैक रिवाइण्ड" (“Heart Attack Rewind”) अभियान का मुख्य उद्देश्य क्या है? - खराब कोलेस्ट्रॉल (Bad Cholesterol) के दुष्प्रभाव के बारे में लोगों को जानकारी देना

विस्तार: वर्ष 2023 तक वैश्विक खाद्य आपूर्ति में उद्योग द्वारा उत्पादित ट्रांस-फैट (Trans-Fat) को समाप्त करने के विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा निर्धारित लक्ष्य की पृष्ठभूमि में भारत की खाद्य नियामक संस्था भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (Food Safety and Standards Authority of India - FSSAI) ने 1 दिसम्बर 2018 से "हर्ट अटैक रिवाइण्ड" (“Heart Attack Rewind”) नामक अभियान को शुरू कर भोजन से खतरनाक ट्रांस-फैट को खाद्य-आपूर्ति चेन से 2022 तक समाप्त करने के बारे में जागरूकता फैलाने का बीड़ा उठाया है।

- भारत में अभी तक खाद्य उत्पादों में लिप्त उत्पादकों को 5% तक ट्रांस-फैट शामिल करने की अनुमति है लेकिन अब इसे घटा कर 2% कर देश को एक प्रकार से ट्रांस-फैट मुक्त करने की तैयारी की जा रही है। ट्रांस-फैट खाद्य पदार्थ में शामिल खराब कोलेस्ट्रॉल (Bad Cholesterol) है जो हृदय रोग तथा हर्ट अटैक जैसी समस्या का मुख्य कारण है। पूरी दुनिया में ट्रांस-फैट के कारण प्रति-वर्ष लगभग 5 लाख लोग तमाम हृदय रोगों के कारण असमय मौत का शिकार हो रहे हैं।

......................................................................

| Current Affairs | Current Affairs 2018 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking  Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2018 समसामायिकी | दिसम्बर 2018 | 2018 करेण्ट अफेयर्स | G20 शिखर सम्मेलन | मुख्य चुनाव आयुक्त | GDP विकास दर | एकल आपातकालीन नम्बर | पेरिस प्रदर्शन | हर्ट अटैक रिवाइण्ड | 

Read more