6-10 मई 2018 करेण्ट अफेयर्स

मलेशिया | महातिर मोहम्मद | कार्ल मार्क्स | 200वीं वर्षगाँठ | फ्लिपकार्ट-वॉलमार्ट | डीएसपी ब्लैकरॉक |

Posted on May 10, 2018 07:04 IST in Current Affairs.

User Image
2158 Followers
1204 Views

1) किस दक्षिण-पूर्व एशियाई देश में विपक्षी गठबन्धन ने लगभग छह दशक पुराने सत्ताधारी गठबन्धन को धूल चटाते हुए संसदीय चुनावो में एक ऐतिहासिक जीत हासिल की? – मलेशिया (Malaysia)

विस्तार: मलेशिया में वयोवृद्ध विपक्षी नेता महातिर मोहम्मद (Mahathir Mohamad) की अगुवाई वाले विपक्षी मोर्चे "पाकातन हरापन" (Pakatan Harapan) ने देश में पिछले 6 दशकों ने काबिज सत्ताधारी गठबन्धन “बारिसान नेशनल" (“Barisan Nasional”) को पराजित कर एक नया इतिहास कायम किया। 10 मई 2018 को देश के राष्ट्रीय चुनाव आयोग द्वारा घोषित परिणामों में विपक्षी गठबन्धन को 115 सीटें मिल रही हैं जबकि सत्ता के लिए कम से कम 112 सीटें पाना आवश्यक है।

- उल्लेखनीय है कि 92 वर्षीय महातिर मोहम्मद अपना राजनीतिक सन्यास छोड़कर पुन: सक्रिय राजनीति में वापस लौटे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक (Najib Razak) के खिलाफ विपक्षी गठबन्धन खड़ा किया। सत्ताधारी गठबन्धन पर बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है तथा 1एमडीबी (1MDB) नामक राष्ट्रीय कोष के दुरुपयोग के आरोप भी लगे हैं।

..............................................................

2) समाजवाद के प्रणेता कार्ल मार्क्स (Karl Marx) की कौन सी जयंती पूरी दुनिया में 5 मई 2018 को धूम-धाम से मनाई गई? - 200वीं

विस्तार: दार्शनिक, क्रांतिकारी नेता, समाजवाद के प्रणेता तथा "दास कैपिटल" (“Das Capital”) जैसी कालजयी पुस्तक के रचनाकार कार्ल मार्क्स (Karl Marx) की 200वीं वर्षगाँठ 5 मई 2018 को मनाई गई। मार्क्स का जन्म ठीक 200 वर्ष पूर्व 5 मई 1818 को जर्मनी में हुआ था। इस अवसर पर सारी दुनिया में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। आधिकारिक कार्यक्रम का आयोजन उनकी जन्मस्थली जर्मनी (Germany) के ट्रियर (Trier) नामक स्थान पर हुआ।

- उल्लेखनीय है कि कम्यूनिस्ट घोषणापत्र (Communist Manifesto) तैयार करने वाले कार्ल मार्क्स के सिद्धांतों की लोकप्रियता के बारे में भले प्रश्न उठाए जा रहे हों क्योंकि पिछले 100 वर्षों में तमाम समाजवादी देशों में हुई घटनाएं इस ओर इशारा करती हैं लेकिन आधुनिक युग के अद्वितीय विचारक और मानव सम्मान के मौलिक विचारों के सम्बन्ध में उनका कद लम्बे अर्से तक ऊँचा बना रहेगा।

..............................................................

3) 9 मई 2018 को की गई घोषणा के अनुसार कौन सी कम्पनी भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनी फ्लिपकार्ट (Flipkart) में 77% हिस्सेदारी 16 अरब डॉलर ($16 billion) की कीमत पर खरीद रही है? – वॉलमार्ट (Wal-Mart)

विस्तार: दिग्गज अमेरिकी रिटेल समूह वॉलमार्ट इन्कॉरपोरेटेड (Wal-Mart Inc.)ने 9 मई 2018 को घोषणा की कि उसने एक समझौता किया है जिससे वह  भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनी फ्लिपकार्ट समूह (Flipkart Group) में सबसे बड़ा हिस्सेदार (largest shareholder) बन जायेगा। इस समझौते के तहत वॉलमार्ट फ्लिपकार्ट में की लगभग 77% हिस्सेदारी को लगभग 16 अरब डॉलर की भारी-भरकम कीमत में खरीदेगा। हालांकि इस करार को अभी भारतीय नियामकों की मंजूरी मिलना शेष है। इस सौदे ने फ्लिपकार्ट का कुल मूल्यांकन लगभग 20.8 अरब डॉलर ($20.8 billion) का किया है जबकि कम्पनी का पूर्व मूल्यांकन मात्र 12 अरब डॉलर के आस-पास था।

- हिस्सेदारी के इस करार के क्रियान्वित होने के बाद फ्लिपकार्ट में अधिशेष लगभग 23% हिस्सेदारी उसके वर्तमान शेयरधारकों में रह जायेगी, जिनमें प्रमुख हैं - फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक बिन्नी बंसल (Binny Bansal), टेनसेंट होल्डिंग्स लिमिटेड (Tencent Holdings Limited), टाइगर ग्लोबल मैनेजमेण्ट (Tiger Global Management LLC) और माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन (Microsoft Corp.)। वहीं फ्लिपकार्ट के एक अन्य सह-संस्थापक सचिन बंसल (Sachin Bansal) कम्पनी में अपनी 5.96% की हिस्सेदारी को बेच कर कम्पनी से बाहर हो जायेंगे। इसके लिए उन्हें लगभग 1.23 अरब डॉलर हासिल होंगे।

- इस सम्बन्ध में वॉलमार्ट द्वारा की गई घोषणा के अनुसार उसका प्रारंभिक फोकस तो कम्पनी के वर्तमान ग्राहकों को और बेहतर सेवाएं देने और व्यवसाय की वृद्धि सुनिश्चित करने पर होगा लेकिन भविष्य में फ्लिपकार्ट को सार्वजनिक तौर पर सूचीबद्ध करने पर भी कम्पनी का ध्यान रहेगा।

..............................................................

4) किस प्रमुख वैश्विक म्यूचुअल फण्ड ने भारत के म्यूचुअल फण्ड बाजार से बाहर होने की घोषणा 7 मई 2018 को की? – ब्लैकरॉक (BlackRock)

विस्तार: ब्लैकरॉक इन्कॉर्पोरेटड (BlackRock Inc.), जिसकी डीएसपी ब्लैकरॉक म्यूचुअल फण्ड (DSP BlackRock Mutual Fund) में 40% हिस्सेदारी है, ने 7 मई 2018 को घोषणा की कि वह इस साझा उपक्रम (joint venture) से बाहर हो रहा है। डीएसपी समूह (DSP Group), जो इस म्यूचुअल फण्ड उपक्रम का अन्य साझीदार है, ब्लैकरॉक की हिस्सेदारी को खरीद लेगा तथा ब्लैकरॉक इस प्रकार इस उपक्रम से बाहर हो जायेगा।

- इस सौदे के पूरा होने के बाद डीएसपी ब्लैकरॉक म्यूचुअल फण्ड को डीएसपी म्यूचुअल फण्ड (DSP Mutual Fund) के नाम से जाना जायेगा जबकि इस उपक्रम की होल्डिंग कम्पनी का नाम डीएसपी इन्वेस्टमेण्ट मैनेजर्स (DSP Investment Managers) होगा। इस उपक्रम द्वारा मार्च 2018 की समाप्ति तक लगभग 86,326 करोड़ रुपए का प्रबन्धन विभिन्न म्यूचुअल फण्ड योजनाओं में किया जा रहा था तथा इसका भारत के म्यूचुअल फण्ड बाजार में लगभग 4% का हिस्सा है।

- उल्लेखनीय है कि 150 वर्ष पुराने डीएसपी समूह ने भारत में खुदरा परिसम्पत्ति प्रबन्धन व्यवसाय (retail asset management business) में उतरने के लिए 1996 में मैरिल लिन्च इन्वेस्टमेण्ट मैनेजर्स (Merrill Lynch Investment Managers) के साथ एक समझौता किया था। लेकिन ब्लैकरॉक द्वारा वर्ष 2006 में मैरिल लिन्च इन्वेस्टमेण्ट मैनेजर्स का व्यवसाय खरीदने के बाद वर्ष 2008 में ब्लैकरॉक इस उपक्रम (DSP Merrill Lynch Asset Management) के द्वारा भारत में प्रविष्ट हो गया था तथा इसका नाम बदलकर DSP BlackRock Mutual Fund हो गया।

- वैसे कम लाभ तथा बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण भारत में पिछले कुछ वर्षों से तमाम विदेशी फण्ड हाउस अपना व्यवसाय छोड़कर जाने का सिलसिला चालू है। ऐसा करने वाले कुछ प्रमुख फण्ड हैं - Daiwa, Deutsche, Morgan Stanley, ING, PineBridge, Nomura, Fidelity, AIG, Zurich, Morgan Stanley, JP Morgan, Goldman Sachs और KBC।

..............................................................

| Current Affairs | Current Affairs 2018 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking , Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2018 समसामायिकी | 2018 करेण्ट अफेयर्स | मई 2018 |

Read more