4-5 मई 2018 करेण्ट अफेयर्स

डेकोटा विमान | भारतीय वायुसेना | भारत का 100वाँ हवाई-अड्डा | शाओमी आईपीओ | भारत प्रतिरक्षा खर्च 2017 |

Posted on May 05, 2018 03:30 IST in Current Affairs.

User Image
962 Followers
1066 Views

1) भारतीय वायुसेना (IAF) में उल्लेखनीय सेवा पूरे करने के लगभग 5 दशक बाद सुप्रसिद्ध मालवाहक विमान डेकोटा (Dakota) को 4 मई 2018 को हिण्डन वायुसेना स्टेशन में हुए एक भव्य कार्यक्रम में पुन: वायुसेना में शामिल किया गया। इस विमान को वायुसेना में शामिल कराने में सर्वाधिक प्रमुख भूमिका किसकी रही? - राजीव चन्द्रशेखर (Rajeev Chandrasekhar)

विस्तार: राज्यसभा के निर्दलीय सांसद राजीव चन्द्रशेखर (Rajeev Chandrasekhar) उस ऐतिहासिक मुहिम के अगुवा रहे हैं जिसके तहत  भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) में उल्लेखनीय सेवा पूरे करने के लगभग 5 दशक बाद सुप्रसिद्ध मालवाहक विमान (transport aircraft) डेकोटा (Dakota) को पुन: शामिल किया गया। दर-असल राजीव के पिता पूर्व एयर कमोडोर एम.के. चन्द्रशेखर (Air Commodore (retd) M.K. Chandrasekhar) वायुसेना में सेवा के दौरान इस विमान को उड़ाते थे तथा इस विमान से भावनात्मक तौर पर जुड़े हुए थे। वे चाहते थे कि डेकोटा को एक बार फिर वायुसेना में शामिल किया जाए। उनकी इस चाहत को उनके पुत्र राजीव ने पूरा करने में पूरा जतन किया।

- राजीव चंद्रशेखर ने ब्रिटेन में एक डकोटा डीसी-3 वीपी-905 (Dakota DC-3 VP 905) विमान को कबाड़ से खरीदकर नवीनीकृत (restore) कराया। इस विमान को फिर 17 अप्रैल 2018 को वायुसेना और रिफ्लाइट एयरवर्क्स (Reflight Airworks) का क्रू अपने साथ लेकर भारत रवाना हुआ। यह विमान 9,750 किमी. की यात्रा कर फ्रांस, इटली, यूनान, जॉर्डन, बहरीन और ओमान के रास्ते 25 अप्रैल 2018 को गुजरात के जामनगर पहुँचा। 4 मई 2018 को गाजियाबाद के हिण्डन वायुसेना स्टेशन (Hindan Air Force Station) में हुए कार्यक्रम में वायुसेनाध्यक्ष एयर चीफ मार्शल बी.एस. धनोआ, सेवानिवृत्त एयर कमोडोर एम.के. चन्द्रशेखर और राजीव चन्द्रशेखर की उपस्थिति में इसे विधिवत भारतीय वायुसेना में शामिल कर लिया गया।

- उल्लेखनीय है कि डेकोटा विमान भारतीय वायुसेना का प्रमुख मालवाहक विमान हुआ करता था तथा इसने वर्ष 1947 से 1971 तक अपनी बहुमूल्य सेवाएं प्रदान की थीं। इस विमान को सेवा काल में “Gooney Bird” के नाम से भी पुकारा जाता था। अब इस नवीनीकृत डेकोटा विमान का नाम "परशुराम" ('Parashuram') रखा गया है।

.............................................................

2) नागर विमानन मंत्री जयंत सिन्हा (Jayant Sinha) द्वारा 2 मई 2018 को दी गई जानकारी के अनुसार कौन सा हवाई-अड्डा भारत का 100वाँ परिचालित हवाई-अड्डा (100th operational airport of India) बनने जा रहा है? - पेकयोंग (Pekyong)

विस्तार: सिक्किम (Sikkim) का पेकयोंग (Pekyong) हवाई अड्डा जब जून 2018 में शुरू किया जायेगा तब यह देश का कुल 100वाँ परिचालित हवाई-अड्डा बन जायेगा। उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार की महत्वाकांक्षी क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना "उड़े देश का आम आदमी" (UDAN) के तहत स्पाइसजेट (SpiceJet) एयरलाइन को पेकयोंग (Pekyong) से कोलकाता (Kolkata) के बीच हवाई सेवा शुरू करने की अनुमति हासिल हो गई है।

- यह जानकारी नागर विमानन मंत्री जयंत सिन्हा ने 2 मई 2018 को दी। सिक्किम ही देश का एकमात्र ऐसा राज्य था जो देश के हवाई अड्डे में शामिल नहीं था। अब पेकयोंग से पहली हवाई सेवा शुरू होने से सिक्किम भी देश के हवाई मानचित्र में शामिल हो जायेगा।

.............................................................

3) चीन (China) की किस स्मार्टफोन निर्माता कम्पनी ने 3 मई 2018 को 10 अरब डॉलर के आईपीओ (IPO) के लिए हांग-कांग में आवेदन किया, जिसके बारे में माना जा रहा है कि 2014 में अलीबाबा (Alibaba) के आईपीओ के बाद दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ होगा? – शाओमी (Xiaomi)

विस्तार: चीन की दिग्गज स्मार्टफोन निर्माता कम्पनी शाओमी कॉर्पोरेशन (Xiaomi Corp.) ने 3 मई 2018 को हांग-कांग के स्टॉक एक्सचेंज में 10 अरब डॉलर के आईपीओ (IPO) के लिए आवेदन किया। उसने हांग-कांग में आईपीओ सम्बन्धी नए नियमों का लाभ उठाते हुए यह आवेदन किया है तथा ऐसी करने वाली पहली प्रमुख कम्पनी बनी है। इस प्रस्तावित आईपीओ की एक और खास बात यह है कि यह वर्ष 2014 में चीन की प्रमुख ई-कॉमर्स कम्पनी अलीबाबा (Alibaba) के 25 अरब डॉलर के आईपीओ के बाद अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ बनने की राह पर अग्रसर है।

- शाओमी 2010 में संस्थापित टैक्नोलॉजी कम्पनी है जिसने बहुत तेजी से प्रगति की है। हालांकि कम्पनी को वर्ष 2016 में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा था लेकिन 2017 में कम्पनी ने शानदार प्रगति दर्ज करते हुए समस्त आशंकाओं को निर्मूल साबित कर दिया। कम्पनी ने भारत में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स (Samsung Electronics) को जबर्दस्त चुनौती देते हुए सर्वाधिक स्मार्टफोन बेचने वाली कम्पनी बनने में सफलता हासिल की है।

- अब शाओमी विकसित बाजारों में जबर्दस्त पैठ बनाने की कोशिश कर रही है और ये अमेरिका में दिग्गज कम्पनी एप्पल (Apple Inc.) को पछाड़ने की रणनीति बना रही है।

.............................................................

4) स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (SIPRI) द्वारा 2 मई 2018 को जारी रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2017 में भारत (India) प्रतिरक्षा खर्च (defence expenditure) के मामले में किस देश को पछाड़कर विश्व का पाँचवाँ सर्वाधिक प्रतिरक्षा व्यय करने वाला देश बन गया है? - फ्रांस (France)

विस्तार: वर्ष 2017 के दौरान भारत का कुल प्रतिरक्षा खर्च 5.5% बढ़कर 63.9 अरब डॉलर रहा। इस प्रकार भारत फ्रांस (France) को पछाड़कर सर्वाधिक प्रतिरक्षा खर्च करने वाले पाँच देशों में शामिल हो गया। यह जानकारी  स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (Stockholm International Peace Research Institute - SIPRI) द्वारा 2 मई 2018 को जारी वार्षिक रिपोर्ट में सामने आई।

- इस रिपोर्ट के अनुसार प्रतिरक्षा खर्च के मामले में सर्वाधिक खर्च करने वाले दुनिया के चार देश क्रमश: हैं – अमेरिका (US), चीन (China), सऊदी अरब (Saudi Arabia) और रूस (Russia)। अमेरिका कुल 610 अरब डॉलर खर्च कर पहले स्थान पर बना हुआ है जबकि चीन 228 अरब डॉलर के खर्च के साथ दूसरे स्थान पर है।

.............................................................

| Current Affairs | Current Affairs 2018 | IAS | SBI | IBPS | Banking | Bank PO | Banking , Awareness | Daily Current Affairs | Hindi Current Affairs | Hindi GK| करेण्ट अफेयर्स | सामयिकी, समसामायिकी | 2018 समसामायिकी | 2018 करेण्ट अफेयर्स | मई 2018 |

Read more